सुशांत केस:- मुंबई आते ही क्वारांटीन होंगे CBI ऑफिसर।

 मुंबई आते ही क्वारांटीन होंगे CBI ऑफिसर।
कल्पना कीजिए कि अगर सुप्रीम कोर्ट सुशांत केस की जांच सीबीआई को सौंप देंता हैं। और सीबीआई के ऑफिसर केस की जांच करने मुंबई जाते हैं। और उन्हें भी विनय तिवारी के तरह क्वारांटीन कर लिया जाता हैं। ये केवल हमारी कल्पना नहीं महाराष्ट्र सरकार ऐसा करने पूरी तैयारी कर चुकी हैं। ये हम नहीं कह रहें ये कहना हैं बीएमसी के मेयर किशोरी पेडनकर का उनका कहना हैं।

Photo from Social Media

अगर सीबीआई के अधिकारी जांच के लिए आते हैं तो क्वॉरंटीन करने का नियम उनपर भी लागू हो सकता है। सबके के लिए नियम एक जैसे हैै। यदि कोई सीनियर अधिकारी ट्रैवल कर रहा है तो उसको भी पता है कि देश के सभी शहरों में महामारी का कहर है। और उन्होंने ने कहा कि सीबीआई टीम को बिना परमिशन मुंबई में कदम रखने पर 14 दिन क्वॉरंटीन में भेजा जाएगा।

अगर सुशांत केस की जांच करने सीबीआई मुंबई जाती हैं
अगर सुशांत केस की जांच करने सीबीआई मुंबई जाती हैं और उन्हें 14 दिन के लिए क्वॉरंटीन कर लिया जाता हैं तो केंद्र सरकार और महाराष्ट्र सरकार के बीच क्या हालात होंगे। इसका अंदाजा लगाया जा सकता हैं।

2018 का चिटफंड केस
आपको बता दे की  2018 में शारदा चिटफंड केस में CBI के 40 अफसर पूछताछ के लिए पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंचे । जिसके बाद स्थानीय पुलिस ने सीबीआई अधिकारियों को घर के अंदर घुसने से रोक दिया। इसके अलावा CBI अधिकारियों को जबरदस्ती पुलिस जीप में बैठाया और थाने  ले गए । मामले में केंद्र और बंगाल सरकार में जमकर टकराव हुआ था।

रिया चक्रवर्ती 
सुशांत केस को मुंबई ट्रांसफर करने के रिया चक्रवर्ती कि याचिका पर 11 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट में सुनवई होंगी। अपने फैसले को सुप्रीम कोर्ट को तय करना है, सुशांत केस को लेकर दो राज्य के सरकार और केंद्र में टकराव ना हो।
आपको बता दे की सुशांत के खाते से हुआ 15 करोड़ निकाने पर के के सिंह के आरोपों पर ईडी रिया चक्रवर्ती और उनके भाई, पिता और उनके मैनेजर से पूछ-ताछ कर रहीं हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.