10 लाख में दरोगा और 15 लाख में मेडिकल परीक्षा पास कराने की गारंटी देने वाले अपराधी गिरफ्तार।

10 लाख में दरोगा और 15 लाख  में मेडिकल परीक्षा पास कराने की गारंटी देने वाले अपराधी गिरफ्तार।
पटना:- बिहार पुलिस (Bihar Police) की विशेष टीम ने सरकारी और निजी शैक्षणिक संस्थाओं ( Educational institutions) में नौकरी और नामांकन दिलाने वाले पेशेवर अतुल वत्स का भंडाफोड़ किया है। यह अंतर राज्य फर्जीवाड़ा गिरोह शातिर अतुल वत्स के साथ जुड़कर फैल रहा था और अपना जाल बिहार में फैला रहा था। अपराध अनुसंधान (Crime Research)  शाखा विशेष इकाई नई दिल्ली में अतुल वत्स के खिलाफ आईटी एक्ट (IT Act) में कई दस्तावेज बरामद किए हैं|

10 लाख में दरोगा और 15 लाख  में मेडिकल परीक्षा पास कराने की गारंटी देने वाले अपराधी गिरफ्तार।
Photo From Social Media


वह मूलरूप से जहानाबाद के बंधुगंज गांव निवासी अरुण केसरी का पुत्र है। 

जल्दी अमीर बनने के शॉर्टकट ने बना दिया सॉल्वर  
पुलिस जांच में पता चला है कि अंतर राज्य सॉल्वर गैंग का मुख्य सरगना अतुल वत्स जहानाबाद जिले के बंधुगंज गांव का रहने वाला है। अतुल वत्स के पिता अरुण केसरी रिटायर्ड प्रशासनिक अधिकारी हैं। पुलिस के मुताबिक अतुल वत्स के पिता ने भी कॉमनवेल्थ गेम स्कैम में डिप्टी डायरेक्टर रहते हुए गड़बड़ी की थी। जिसके बाद वह सीबीआइ के शिकंजे में फंसे थे।

अतुल वत्स बैंक पीओ कि नौकर कर चुका है।
अतुल का मुजफ्फरपुर में आलीशान मकान भी है। आपको बता दे की गैंग बनाने से पहले शहर के दीघा स्थित यूको बैंक के पीओ की नौकरी कर चुका है। अतुल वत्स जल्दी अमीर बनने के चक्कर में यह शॉर्टकट तरीका अपनाया और परीक्षा पास कराने को धोखा देने वाला गैंग तैयार करने लगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.